pm ujjwala yojana details: inwikipedia अभी तक जल्द करें आवेदन फ्री में मिलेगा सिलेंडर

pm ujjwala yojana details: inwikipedia अभी तक जल्द करें आवेदन फ्री में मिलेगा सिलेंडर

pm ujjwala yojana का शुभारंभ भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में धूम्रपान मुक्त ग्रामीण भारत के दृष्टिकोण का समर्थन करने वाली एक सामाजिक कल्याणकारी योजना है। यह योजना वर्ष 2019 से पूरे देश में रियायती एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से शुरू कराई गई थी।

pm ujjwala yojana details
pm ujjwala yojana details
प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (pm ujjwala yojana)

योजना का उद्देश्य लगभग 8 करोड़ परिवारों को लाभ प्रदान करने की उम्मीद थी। विशेष रूप से गरीब परिवार जो गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे हैं, उन्हें एलपीजी का उपयोग बढ़ाने एवं वायु प्रदूषण, वनों की कटाई और नागरिकों के बीच स्वास्थ्य संबंधी विकारों को कम करने में सहायता प्रदान करेगी।

Pm उज्जवला योजना की वर्तमान समय में जरूरत

हमारे देश भारत में एलपीजी कनेक्शन शहरी एवं अर्द्ध शहरी क्षेत्र में ही केंद्र थे, जिनमें अधिकांश कनेक्शन मध्यम वर्ग एवं उच्च मध्यम वर्ग के भवनों में थे। एलपीजी गैस की सीमित पहुंच के कारण कम आय वाले आर्थिक रूप से कमजोर परिवार नियमित रूप से भोजन बनाने हेतु मुख्य स्रोत के रूप में कोयला, लकड़ी जैसे जीवाश्म इंधनों का उपयोग करते हैं। इन सभी का प्रयोग करने से पर्यावरण प्रदूषण एवं गंभीर स्वास्थ्य बीमारियां जैसे – फेफड़ों की बीमारियों के लिए जिम्मेदार है।

स्वास्थ्य को लेकर WHO की रिपोर्ट

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन के अनुसार हमारे देश में लगभग 5 लाख मौत अशुद्ध खाना पकाने वाले इंधनों का उपयोग करने को जिम्मेदार ठहराया है, जिसमें अधिकांश फेफड़ों के कैंसर और क्रॉनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पलमोनरी डिजीज जैसी गैर संचारी बीमारियों के कारण हुई है।

भारत सरकार की मदद द्वारा आत्मनिर्भर महिलाएं

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना प्रमुख उद्देश्य स्वच्छ खाना पकाने हेतु ईंधन को प्रदान करके महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य की सुरक्षा करना है। इसलिए कोयला और जलाऊ लकड़ी जैसे पारंपरिक खाना पकाने वाले इंधनों पर उनकी निर्भरता को कम करना है, जिससे घर के अंदर वायु प्रदूषण और संबंधित बीमारियों का खतरा भी कम होगा।

लगभग 8 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को लाभ

भारत सरकार द्वारा pm ujjwala yojana के तहत लगभग 80 मिलियन BPL(बीपीएल) परिवारों को अर्थात करीब 8 करोड लोगों को गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली महिलाओं के लिए ₹ 1600 प्रति कनेक्शन जो केवल महिला लाभार्थियों को ही प्रदान किया जाएगा। योजना को लागू करने हेतु बीपीएल परिवारों की पहचाने के लिए सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना 2011 उत्तर का उपयोग किया जा रहा था।

पीएम उज्जवला योजना के लिए लाभ लेने हेतु आवेदन प्रक्रिया

प्रथम चरण: आवेदक महिला की पता संबंधी जानकारी, जन धन या बैंक खाता एवं आधार कार्ड संख्या जैसी जानकारी और योजना फॉर्म में भरना

द्वितीय चरण: एक बार आवेदन जमा हो जाने के बाद  क्षेत्र अधिकारी आवेदक महिला का बीपीएल स्थिति पता करने के लिए एसईसीसी 2011 डेटाबेस के साथ आवेदन का मिलान करेंगे

तृतीय चरण: स्थिति ज्ञात करने के बाद फील्ड अधिकारी आवेदक की वितरण जैसे नाम और पता एक तेल विपणन कंपनी वेबसाइट अथवा पोर्टल में दर्ज करेंगे

चौथा चरण: विवरण जानकारी को पूर्ण करने के बाद ओएमसी नए एलपीजी कनेक्शन के लिए उचित परिश्रम करेगी और पात्र हितग्राहियों को क्रमशः कनेक्शन जारी कर रही है।

योजना की प्रमुख विशेषताएं
  • कनेक्शन हेतु राशि का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा
  • खाने पकाने वाला गैस चूल्हा और पहली रिफिल की लागत को सम्मिलित करके आवेदक को ईएमआई (किस्तों पर) विकल्प प्रदान करेगी
  • यह किस्त की राशि रिफिल पर प्राप्त होने वाली सब्सिडी द्वारा वसूली जा रही है
  • योजना में सभी प्रकार के लाभार्थियों को 12 किलोग्राम और 5 किलोग्राम जैसे विभिन्न आकार के सिलेंडरों को प्रदान किया जा रहा है
  • प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत पूर्वोत्तर राज्यों सहित सभी पहाड़ी राज्यों तक विस्तारित किया गया है। इन राज्यों को “प्राथमिकता वाले राज्य” कहा जाता है।
सरकार द्वारा मान्य लाभार्थी

सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर एवं गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को सबसे पहले प्राथमिकता दी गई है, जो यहां नीचे विवरण किया गया है-

  • सर्वप्रथम SECC – 2011 सूची में पंजीकृत प्राप्तकर्ता
  • प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ प्राप्त  कर रहे लाभार्थी
  • अंत्योदय अन्न योजना के लाभार्थी
  • वनों में निवास करने वाले वनवासी
  • सबसे पिछड़े वर्ग से संबंधित हितग्राही महिलाएं
  • वे आदिवासी महिलाएं जो चाय बागानों में कार्य कर चुकी है या वर्तमान में कर रही है
  • दीपों एवं नदी के किनारे में रहने वाले रोग
पीएम pm ujjwala yojana का प्रमुख लाभ

कुछ प्रमुख लाभ की पंक्तियों को  संलग्न किया गया है-

  • प्रत्येक बीपीएल धारकों को एलपीजी कनेक्शन के लिए ₹1600 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जा रही है
  • तेल विपणन कंपनियों से रिफिल खरीदने के लिए ब्याज मुक्त (किस्त रूपी)
  • सरकार कनेक्शन के लिए ₹1600 सहित जिसमें एक गैस सिलेंडर, दबाव नियामक, बुकलेट और एक सुरक्षा नली शामिल है, इसका भुगतान स्वयं करेगी।
भारत सरकार का लक्ष्य हासिल

इस योजना के तहत प्रारंभ में मार्च 2020 तक लगभग 5 करोड़ एलपीजी कनेक्शन जारी किए जाने थे। पहचान दस्तावेजों के अनुसार इन परिवारों को योजना का लाभ देने के बाद इसकी संख्या को 8 करोड़ तक बढ़ाया गया है।इस टारगेट को और भी बढ़ाया जाएगा।

एक सर्वे की रिपोर्ट
  • वर्ष 2019 में एक रिपोर्ट के अनुसार 78% प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों ने अपने गैस सिलेंडर को दोबारा भरवाया
  • सिलेंडर दोबारा भरवाने वाले लाभार्थियों में 63 फ़ीसदी लाभार्थियों ने चार या अधिक सिलेंडर लिए
  • वर्ष 2019 में उज्ज्वला जिला योजना के तहत लाभार्थियों की औसत खपत तीन एलपीजी सिलेंडर प्रति वर्ष थी
  • इस योजना के लागू होने के बाद प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 30 करोड़ 17 लाख रिफिल वितरित किए गए हैं।
अंतिम शब्द

संख्या के आधार पर योजना के तहत ने न केवल उच्च स्वीकार की चुनौती को पूर्ण किया है, बल्कि इस बात पर भी जोर दिया। सेवा का उपयोग बहुत अधिक हुआ है। इसके अलावा एलपीजी कनेक्शन 2016 से पहले 61% से बढ़कर 2019 में 94.7 परसेंट हो गया। ज्ञात होता है, कि योजना को व्यापक रूप से लोगों द्वारा स्वीकार किया गया और अधिक जानकारी को पीएम उज्जवला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

FAQ.

प्रश्न -प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में कौन कौन से कागज लगते हैं?

उत्तर – आवेदन करने हेतु आवेदक का आधार कार्ड बैंक खाता संख्या परिवार आईडी जैसे दस्तावेज आवश्यक होंगे।

प्रश्न – उज्जवला योजना में कितने सिलेंडर मिलते हैं?

उत्तर – परिवार को एक सिलेंडर प्रदान करने का प्रावधान तय किया गया है।

प्रश्न – उज्ज्वला योजना 2.0 कब शुरू होगी?

उत्तर – उज्ज्वला योजना 2.0 की शुरुआत की जा चुकी है।

प्रश्न – उज्ज्वला योजना के लिए कौन पात्र है?

उत्तर – योजना का लाभ लेने हेतु पीएम आवास योजना का लाभ लेने वाले हितग्राही एवं गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को प्राथमिकता दी गई है।

प्रश्न – उज्ज्वला योजना की शिकायत कैसे करें?

1906 (emargency helpline number)

1800-233-3555 (toll free helpline number)

1800-266-6696 (ujjwala yojana helpline number )

यह भी पढ़ें 
नारी सम्मान योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें पूर्ण जानकारी inwikipedia

नारी सम्मान योजना के लिए करोड़ों का बजट inwikipedia

नारी सम्मान योजना आवेदन प्रक्रिया अंतिम तिथि inwikipedia

नारी सम्मान योजना के लिए पात्रता inwikipedia

Leave a comment