what is inter cast marriage: inwikipedia सरकार दे रही 5 लाख,जाने क्या है पात्रता

what is inter cast marriage: inwikipedia सरकार दे रही 5 लाख,जाने क्या है पात्रता

समाज में व्याप्त गलत सोच अथवा कुरीतियों को कम करने एवं जातिवाद को खत्म करने हेतु मध्यप्रदेश सरकार द्वारा अंतर्जातीय विवाह योजना की शुरुआत की है। योजना के माध्यम से सभी धर्म जाति विशेष के लोगों को एक साथ चलने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा योजना की शुरुआत की गई है।what is inter cast marriage

what is inter cast marriage
what is inter cast marriage
अंतर जातीय विवाह योजना (what is inter cast marriage)

योजना के अनुसार राज्य सरकार अंतरजातीय विवाह करने पर दंपति को प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगी। इस योजना के माध्यम से जो प्रोत्साहन राशि मिलेगी उस राशि को उपयोग दंपति अपने दैनिक जीवन में होने वाले खर्च को पूर्ण करने के लिए कर सकती है।लोग अंतर्जातीय विवाह करेंगे और योजना से जातिवाद को खत्म किया जा सकेगा। अब कोई भी नागरिक अपने जीवन साथी को ढूंढ कर किसी भी जाती के व्यक्ति से विवाह कर सकता है।

inter cast marriage योजना 2023 मिलेगी राशि

अनुसूचित जाति के युवक – युवती से विवाह करने पर मध्य प्रदेश अंतर्जातीय विवाह योजना के अंतर्गत दंपतियों को पुरस्कार देकर, उन्हें सम्मानित किया जाएगा। मध्यप्रदेश अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत मध्य प्रदेश सरकार दंपत्ति को ₹500000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान करेगी। यह आर्थिक सहायता राशि दंपति के जॉइंट बैंक खाते में 8 साल के लिए डाल दी जाएगी। योजना के तहत ढाई लाख रुपये दंपति को नगद, बाकी की राशि को बैंक खाते में ही दिया जाएगा।

विवाह प्रोत्साहन योजना के लाभ एवं विशेषताएं
  • मध्य प्रदेश में योजना के माध्यम से अंतर्जातीय विवाह करने पर जातिगत भेदभाव को खत्म किया जा सकेगा
  • राज्य सरकार द्वारा वर एवम वधु को ढाई लाख से 5 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी
  • दी गई प्रोत्साहन राशि का उपयोग कर दंपति आसानी से अपने जीवन को व्यतीत कर सकेंगे
  • शादी के दौरान होने वाले खर्चों के लिए सरकार द्वारा आर्थिक राशि अंतर राज्य विवाह करने पर दी जाएगी
  • जातिवाद, छुआछूत जैसी समस्याओं को योजना के माध्यम से खत्म किए जाने का प्रयास होगा।
inter cast marriage योजना के लिए पात्रता 

इस योजना का लाभ आवेदक को मध्य प्रदेश का मूल निवासी होने पर ही दिया जाएगा। इसके लिए कुछ पात्र मानदंड निर्धारित किए गए हैं, जो निम्नलिखित रूप से संलग्न किए गए हैं-

  • आवेदन कर्ता को मध्य प्रदेश का मूलभूत निवासी होना अनिवार्य है
  • विवाह कर रहे युवक – युवती की आयु क्रमशः 21 एवं 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए
  • जो युवक युवती आपस में विवाह करना चाहते हैं, दोनों में से किसी के ऊपर आपराधिक मामला दर्ज नहीं होना चाहिए
  • दंपति में से किसी एक को अनुसूचित जाति वर्ग से संबंध होना चाहिए या दोनों में से किसी एक अन्य जाति का होना आवश्यक है
  • योजना का लाभ लेने हेतु आवेदक की वार्षिक आय 5 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • आवेदन करने वाले लड़का – लड़की दोनों का विवाह पहली बार होना चाहिए
  • योजना का लाभ लेने के लिए विवाह के 1 साल के पहले योजना के लिए आवेदन करना होगा
  • आवेदक के पास संयुक्त रूप से खुला हुआ बैंक खाता होना चाहिए।
अंतरजातीय विवाह योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

योजना का लाभ लेने हेतु कुछ प्रमुख दस्तावेज निम्नलिखित रूप से नीचे संलग्न किए गए हैं-

  • आवेदन कर्ता का आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • समग्र आईडी अथवा प्रमाण पत्र
  • अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र
  • सर्वण जाति से संबंधित दस्तावेज
  • आवेदक का आय प्रमाण पत्र
  • विवाह प्रमाण पत्र
  • संयुक्त बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर

दंपति की पासपोर्ट साइज फोटो इत्यादि दस्तावेजों का होना जरूरी है। 

ऑनलाइन आवेदन करने की पूर्ण प्रक्रिया

जो इच्छुक मध्य प्रदेश अंतर्जातीय विवाह योजना के लाभ उठाना चाहते हैं, उन्हें ऑनलाइन माध्यम में आवेदन करना होगा। नीचे दिए गए निम्न चरणों को पूर्ण करके आप आवेदन कर सकते हैं-

प्रथम चरण: सबसे पहले अनुसूचित जनजाति विकास पोर्टल प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना है

द्वितीय चरण: आपके सामने वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जाएगा, होम पेज पर आपको ऑनलाइन सर्विसेज के सेक्शन में जाकर इंटर कास्ट मैरिज के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है

तृतीय चरण: आपके सामने अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना का आवेदन फॉर्म ओपन हो जाएगा

चतुर्थ चरण: यहां आवेदन फार्म में पूछी गई आवश्यक जानकारी को ध्यान पूर्वक भर देना है

पांचवा चरण: पर वधू का फोटो और एक संयुक्त फोटो को अपलोड करना है

छटवां चरण: आपको वर पक्ष का विवरण और वधू पक्ष का विवरण, संपर्क करने का विवरण, अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र, सर्वण जाति से संबंधित आवश्यक दस्तावेज, विवाह संबंधी जानकारी, हिंदू विवाह अधिनियम 1955 के अंतर्गत सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी किया गया विवाह प्रमाण पत्र, संयुक्त बैंक खाता विवरण आदि दर्ज कर देना है

यह सब करने के बाद आपको सबमिट ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। आवेदन करने की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

FAQ.

प्रश्न – अंतरजातीय विवाह से क्या नुकसान है?

उत्तर – अंतर्जातीय विवाह करने से ग्रह कलेश हो सकता है।

प्रश्न – क्या ब्राह्मण बनिया से शादी कर सकता है?

उत्तर – शास्त्रों के अनुसार ब्राह्मण बनिए से शादी नहीं कर सकता है।

प्रश्न – अदर कास्ट में शादी करने से कितना पैसा मिलता है?

उत्तर – सरकार इसके लिए ₹500000 तक की सहायता राशि प्रदान करती है।

प्रश्न – अंतर्जातीय विवाह से क्या लाभ है?

उत्तर – भेदभाव एवं छुआछूत जैसी समस्याओं को काम करने का सार्थक प्रयास होगा।

प्रश्न – इंटर कास्ट शादी का मतलब क्या होता है?

उत्तर – इसमें दंपति के रूप में किसी एक को सर्वण जाति एवं दूसरे को अनुसूचित जनजाति अथवा जनजाति से शादी करना होता है।

यह भी पढ़ें: 

नारी सम्मान योजना करोड़ों का बजट inwikipedia

नारी सम्मान योजना ऑनलाइन आवेदन inwikipedi

अब भरे जाएंगे नारी सम्मान योजना के फॉर्म करें inwikipedia

आवेदन फ्री में मिलेगा रशोई गैस सिलेंडर inwikipedia 

उत्तरप्रदेश सरकार दे रही 10 लाख रूपए inwikipedia 

Leave a comment